सोमवार, 21 दिसंबर 2009

सूत्र-45


जीवन के कोई नियम नहीं है, लेकिन दुनिया में मृत्यु से बड़ा कोई अनुशासन नहीं है...

3 टिप्‍पणियां:

  1. सादर वन्दे
    जीने के साथ मरना भी लिखता है भगवान
    फिर भी इसको भूलकर जीता है इन्सान

    उत्तर देंहटाएं
  2. ....अपुन एकदम अनुशासित आदमी है....!

    उत्तर देंहटाएं